RSS

Category Archives: Hindi Books

How many books written by Dr Ambedkar

  • 0diggsdigg
  •  6EmailShare

Many of people dont know how many books are written by Dr. babasaheb Ambedkar. After doing r&d on this I found following list of books which written by Babasaheb.

  • Administration and finance of the east india company
  • Ancient Indian Commerce
  • Annihilation Of Caste
  • Buddha Or Karl Marx
  • Buddha And His Dhamma
  • Castes In India
  • Commercial Relations of India in the Middle Ages
  • Communal Deadlock And a Way to Solve it
  • Essays on Untouchables and Untouchability 1
  • Essays on Untouchables and Untouchability 2
  • Essays on Untouchables and Untouchability 3
  • Evidence Brfore The Royal Comission On Indian Currency And Finance
  • Federation versus Freedom
  • Frustration
  • India and The Pre-requisites of Communism
  • India on the eve of the crown government
  • Lectures on the English Constitution
  • Maharashtra as a Linguistic Province
  • Manu and the Shudras
  • Mr. Russell And The Reconstruction of Society
  • Mr. Gandhi And The Emancipation Of The Untouchables
  • Need for Checks and Balances
  • Notes on Acts and Laws
  • Notes on History of India
  • Notes on Parliamentary Procedure
  • Pakistan or the Partition of India
  • Paramountcy and the claim of the Indian states to be independent
  • Philosophy of Hinduism
  • Plea to the Foreigner
  • Preservation of Social Order
  • Ranade Gandhi & Jinnah
  • Review : Currency & Exchange
  • Review : Report of the Taxation Inquiry Committee
  • Revolution and Counter-Revolution in Ancient India
  • Riddle in Hinduism
  • Small Holdings in India and their Remedies
  • Statement of Evidence to the Royal Commission on Indian Currency
  • States and Minorities
  • The Constitution of British India
  • The Evolution of Provincial Finance in British India
  • The Present Problem in Indian Currency
  • The Present Problem in Indian Currency 2
  • The Problem of Political Suppression
  • The Problem of the Rupee
  • The Untouchables and the Pax Britannica
  • The Untouchables Who were they and why they became Untouchables
  • Thoughts on Linguistic States
  • Untouchables or the Children of India
  • Waiting for a Visa
  • What Congress and Gandhi have done to the Untouchables
  • Which is Worse?
  • Who were the Shudras?
  • With the Hindus

After founding this books list I am feeling very proudfull I am trying to give all the use above books for reading online for free.
Jaibhim

Incoming search terms:

 

Tags:

Dr B R Ambedkar Books

i
33 Votes

Quantcast

All books in PDF at Selected work of Dr B R Ambedkar in PDF

Or click at http://drambedkarbooks.files.wordpress.com/2009/03/selected-work-of-dr-b-r-ambedkar.pdf

Books in Word Format

Administration and finance of the east india company

Ancient Indian Commerce

Annihilation Of Caste

Buddha Or Karl Marx

Buddha And His Dhamma

Castes In India

Commercial Relations of India in the Middle Ages

Communal Deadlock And a Way to Solve it

Essays on Untouchables and Untouchability 1

Essays on Untouchables and Untouchability 2

Essays on Untouchables and Untouchability 3

Evidence Brfore The Royal Comission On Indian Currency And Finance

Federation versus Freedom

Frustration

India and The Pre-requisites of Communism

India on the eve of the crown government

Lectures on the English Constitution

Maharashtra as a Linguistic Province

Manu and the Shudras

Mr. Russell And The Reconstruction of Society

Mr. Gandhi And The Emancipation Of The Untouchables

Need for Checks and Balances

Notes on Acts and Laws

Notes on History of India

Notes on Parliamentary Procedure

Pakistan or the Partition of India

Paramountcy and the claim of the Indian states to be independent

Philosophy of Hinduism

Plea to the Foreigner

Preservation of Social Order

Ranade Gandhi & Jinnah

Review : Currency & Exchange

Review : Report of the Taxation Inquiry Committee

Revolution and Counter-Revolution in Ancient India

Riddle in Hinduism

Small Holdings in India and their Remedies

Statement of Evidence to the Royal Commission on Indian Currency

States and Minorities

The Constitution of British India

The Evolution of Provincial Finance in British India

The Present Problem in Indian Currency

The Present Problem in Indian Currency 2

The Problem of Political Suppression

The Problem of the Rupee

The Untouchables and the Pax Britannica

The Untouchables Who were they and why they became Untouchables

Thoughts on Linguistic States

Untouchables or the Children of India

Waiting for a Visa

What Congress and Gandhi have done to the Untouchables

Which is Worse?

Who were the Shudras?

With the Hindus

 

डा. अम्बेडकर की 22 प्रतिज्ञाएँ

डा. बी आर अम्बेडकर द्वारा धम्म परिवर्तन के अवसर पर अनुयायियों को दिलाई गयीं  22 प्रतिज्ञाएँ

डा बी.आर. अम्बेडकर ने दीक्षा भूमि, नागपुर, भारत में ऐतिहासिक बौद्ध धर्मं में परिवर्तन के अवसर पर,14 अक्टूबर 1956 को अपने अनुयायियों के लिए 22 प्रतिज्ञाएँ निर्धारित कीं.800000 लोगों का बौद्ध धर्म में रूपांतरण ऐतिहासिक था क्योंकि यह विश्व का सबसे बड़ा धार्मिक रूपांतरण था.उन्होंने इन शपथों को निर्धारित किया ताकि हिंदू धर्म के बंधनों को पूरी तरह पृथक किया जा सके.ये 22 प्रतिज्ञाएँ हिंदू मान्यताओं और पद्धतियों की जड़ों पर गहरा आघात करती हैं. ये एक सेतु के रूप में बौद्ध धर्मं की हिन्दू धर्म में व्याप्त भ्रम और विरोधाभासों से रक्षा करने में सहायक हो सकती हैं.इन प्रतिज्ञाओं से हिन्दू धर्म,जिसमें केवल हिंदुओं की ऊंची जातियों के संवर्धन के लिए मार्ग प्रशस्त किया गया, में व्याप्त अंधविश्वासों, व्यर्थ और अर्थहीन रस्मों, से धर्मान्तरित होते समय स्वतंत्र रहा जा सकता है. प्रसिद्ध 22 प्रतिज्ञाएँ निम्न हैं:

  1. मैं ब्रह्मा, विष्णु और महेश में कोई विश्वास नहीं करूँगा और न ही मैं उनकी पूजा करूँगा
  2. मैं राम और कृष्ण, जो भगवान के अवतार माने जाते हैं, में कोई आस्था नहीं रखूँगा और न ही मैं उनकी पूजा करूँगा
  3. मैं गौरी, गणपति और हिन्दुओं के अन्य देवी-देवताओं में आस्था नहीं रखूँगा और न ही मैं उनकी पूजा करूँगा.
  4. मैं भगवान के अवतार में विश्वास नहीं करता हूँ
  5. मैं यह नहीं मानता और न कभी मानूंगा कि भगवान बुद्ध विष्णु के अवतार थे. मैं इसे पागलपन और झूठा प्रचार-प्रसार मानता हूँ
  6. मैं श्रद्धा (श्राद्ध) में भाग नहीं लूँगा और न ही पिंड-दान दूँगा.
  7. मैं बुद्ध के सिद्धांतों और उपदेशों का उल्लंघन करने वाले तरीके से कार्य नहीं करूँगा
  8. मैं ब्राह्मणों द्वारा निष्पादित होने वाले किसी भी समारोह को स्वीकार नहीं करूँगा
  9. मैं मनुष्य की समानता में विश्वास करता हूँ
  10. मैं समानता स्थापित करने का प्रयास करूँगा
  11. मैं बुद्ध के आष्टांगिक मार्ग का अनुशरण करूँगा
  12. मैं बुद्ध द्वारा निर्धारित परमितों का पालन करूँगा.
  13. मैं सभी जीवित प्राणियों के प्रति दया और प्यार भरी दयालुता रखूँगा तथा उनकी रक्षा करूँगा.
  14. मैं चोरी नहीं करूँगा.
  15. मैं झूठ नहीं बोलूँगा
  16. मैं कामुक पापों को नहीं करूँगा.
  17. मैं शराब, ड्रग्स जैसे मादक पदार्थों का सेवन नहीं करूँगा.
  18. मैं महान आष्टांगिक मार्ग के पालन का प्रयास करूँगा एवं सहानुभूति और प्यार भरी दयालुता का दैनिक जीवन में अभ्यास करूँगा.
  19. मैं हिंदू धर्म का त्याग करता हूँ जो मानवता के लिए हानिकारक है और उन्नति और मानवता के विकास में बाधक है क्योंकि यह असमानता पर आधारित है, और स्व-धर्मं के रूप में बौद्ध धर्म को अपनाता हूँ
  20. मैं दृढ़ता के साथ यह विश्वास करता हूँ की बुद्ध का धम्म ही सच्चा धर्म है.
  21. मुझे विश्वास है कि मैं फिर से जन्म ले रहा हूँ (इस धर्म परिवर्तन के द्वारा).
  22. मैं गंभीरता एवं दृढ़ता के साथ घोषित करता हूँ कि मैं इसके (धर्म परिवर्तन के) बाद अपने जीवन का बुद्ध के सिद्धांतों व शिक्षाओं एवं उनके धम्म के अनुसार मार्गदर्शन करूँगा.
 
 
Follow

Get every new post delivered to your Inbox.

Join 28 other followers