RSS

25 Apr

डॉ. बाबासाहेब आंबेडकर जयंती की हार्दिक बधाइयाँ !


प्रत्येक शिक्षित व्यक्ति की यह प्राथमिक जिम्मेदारी है कि वह अपने नासमझ और गरीब बंधुओं के हितार्थ कार्य करे . यदि शिक्षित व्यक्ति ही अपने हजारों-लाखों बंधुओं के दुखों-तकलीफों की तरफ से मुख मोड़ लेगा तो समाज के पतन का मार्ग प्रशस्त करेगा

मले के वक्त लड़ना अस्वीकार करने मात्र से युद्ध का खात्मा नहीं क्या जा सकता.युद्ध का खात्मा चाहते हो तो युद्ध जीतो और शांति की स्थापना करो .प्रार्थना करने और भीख मांगने से खोये अधिकार प्राप्त नहीं होते बल्कि उन्हें पाने के लिए कठिन संघर्ष करना पड़ता है. बकरियों की बलि दी जाती है शेरों की नहीं.जो लोग अपने उचित अधिकारों की रक्षा हेतु जिंदगी कुर्बान करने को तैयार हैं उनकी सफलता सुनिश्चित है.हमें स्वयं की शक्ति के बल पर अपने अधिकारों हेतु लड़ना चाहिए .जाओ अपनी शक्ति को संगठित करो और संघर्ष करो . कठिन संघर्षों के बाद ही सत्ता और सम्मान मिलता है.” एकता सर्वाधिक महत्वपूर्ण है.इससे पहले कि तुम नष्ट हो जाओ एकता का सबक सीख लो “. संघर्ष मेरे लिए प्रसन्नता का विषय है . यह अनुभूति में पूर्णतया आध्यात्मिक है. इसमें सारवान या सारहीन जैसा कुछ भी नहीं है . हमारा संघर्ष सत्ता और संपत्ति के लिए नहीं बल्कि सम्पूर्ण आज़ादी के लिए है……बाबासाहेब बी आर आंबेडकर.

 

7 responses to “

  1. Kuldeep kumar

    December 2, 2011 at 1:25 pm

    Baba saheb dr. B. R. Ambedkar ji mere aadarsh hai. Mujhe aur mere samaj ko babb par garv hotg hai. Baba saheb ki tulna karna hi samundar me se ek boond pani nikalne ke samaan hai. Jay bheem jay bouddh.

     
  2. SUBHASH CHANDRA

    February 2, 2012 at 7:31 pm

    MAHAN BODHISATAV BHARAT RATAN BABA SAHAB DR. BHIMRAO AMBEDKAR HUM SABHI KE PRERNA STROT HAI JINHONE SAMAJ KE UTTHAN KE LIYE APNA SARA JIWAN SANGHARSH KIYA AUR HAME JEENE KA SAHI RASTA DHIKHAYA UNHI KI BADOLAT AAJ HUM IS DUNIYA ME SAMMAN KE SAATH JI RAHE HAI. UNKE SLOGAN…SIKSHIT BANO—SANGATHIT RAHO—SANGHARSH KARO KE ANUSAR HE HAME UNKA SADAIV ANUSARAN KARNA CHAHIYE.

     
  3. vinod jatv

    June 23, 2012 at 6:56 am

    Bharat raten bodhi satav baba shaeb dr.bhim raw ambedker je ke is mahan jaynti per aap samast samanit nagreko ko vinod jatv ka krinti kare jay bhim

     
  4. Dilip Shelake

    August 24, 2012 at 10:04 am

    Tumha sarvana maza saprem jay-bhim.
    Vishwaratna Dr.Babasaheb Ambedkar yani aplyala jo updesh dila aahe tyache palan karne aple kartvya aahe . tyamule tyani je aplyala sangitle ki “Mokyachi pade Kabij Kara” ani “Shika Sanghativ va ani Sangharsha kara” tarach aaplya samajachi pragati hoil..
    Chala aapn sarve Babanchya aadeshache palan karu….

     
  5. SATISH CHAKRANARAYAN

    April 25, 2013 at 6:46 am

    विश्वरत्न डाँ.बाबासाहेब आंबेडकर यांच्या जयंतीनिमित्त सर्व बांधवांना सप्रेम जयभिम.ह्या जयंतिच्या निमित्ताने सर्व शिक्षितांनी शपथ घेतली पाहिजे कि आपल्या समाजातील सर्व गरीब,अडानी लोकांपर्यत बाबासाहेबांचे शिक्षिण विषयक विचार पोहोचवले पाहिजेत. जेणेकरुन समाजातील अज्ञान दुर होईल.शिक्षणामुळे सर्वाना बाबासाहेबांच्या शिका संघटित व्हा संघर्ष करा या त्रयींचे महत्व कळुन समाजाची प्रगती होईल. जय भिम जय बुद्ध.

     
  6. 9860503793

    April 14, 2014 at 4:27 am

    i like dr.ambedkars thoughts

     
  7. shiv kumar

    March 3, 2016 at 10:35 am

    inke har vichar ek nai urja deti hai. jay bhim

     

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s

 
%d bloggers like this: